Connect with us

अर्ली बुलेटिन

नजीब जंग ने लिया इस्तीफा, विपक्ष ने लिया बीजेपी को निशाने पर

najeeb jung resign

खबरें

नजीब जंग ने लिया इस्तीफा, विपक्ष ने लिया बीजेपी को निशाने पर

नजीब जंग, कभी केजरीवाल के जानी दुश्मन कहे जाने वाले दिल्ली के उपराज्यपाल ने अचानक लिया इस्तीफा का  फैसला। जैसा की आप जानते है  दिल्ली के उपराज्यपाल  और दिल्ली के माननीय मुख्यमंत्री श्री अरविन्द केजरीवाल के आपसी मतभेद छुपी नहीं है परंतु इस फैसले से श्री केजरीवाल भी हैरान होंगे। बहरहाल नज़दीकी सूत्रों के हवाले से अभी भी इस्तीफे की वजह की पुष्टि  नहीं हो पा  रही है. अभी श्री नजीब जंग का कार्यकाल का डेढ़ साल बाकी है और मिडिया भी हैरान है की आखीर कीस वजह से इतना बड़ा फैसला उनसे लिए गया.

नजीब जंग की 25 दिसबंर से छुट्टियां शुरू होनी थी इसके बावजूद उन्होंने इस्तीफे का फैसला ऐसे मौके पर लिया। उन्होंने एक पत्र के माध्यम से सभी को धन्यवाद किया है और ये भी कहा की वो अपना पहला प्यार एकेडमिक कैरियर की और रुख करेंगे। इतना ही नहीं उन्होंने दिल्ली के मुख्या मंत्री अरविन्द केजरीवाल को भी जाते जाते शुक्रिया अदा किया।

कांग्रेस नेता श्री अजय माकन ने नजीब जंग के इस्तीफे पर तरह तरह के प्रश्न खड़ा किया है. उन्होंने तो यहाँ तक आरोप लगाया है की नजीब जंग की प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी और अरविन्द केजरीवाल के बीच डील हुई है. उन्होंने तो यहाँ तक ये कह डाला की आखिर कौन सी ऐसी डील हुई है जिसके कारन नजीब जंग को इस्तीफा देना पड़ा है. अजय माकन ने कहा की नजीब जंग के बाद हो सकता है वे अपने नुमाइंदे को उपराज्यपाल के पद पर नियुक्त करेंगे।

najeeb-jung-arvind-kejriwal

दिल्ली के अधक्षय मनोज तिवारी ने नजीब जंग के इस्तीफे  के बाद गृहमंत्री राजनाथ सिंह से मुलाकात की, हलाकि इस बात से ये अटकले नहीं लगाया जा सकता है की मुलाकात की वजह नजीब जंग से है. नज़ीब जंग ने पत्र में ये जिक्र किया है की उनकी शुरू से ही ये इच्छा रही है की अपना कार्यकाल ख़त्म होने के बाद वो शिक्षा के क्षेत्र में जाएंगे।

नजीब जंग के इस्तीफे पर किसने क्या टिपण्णी की यहाँ पढ़ें :

आम आदमी पार्टी: कठपुतली की डोर जिसके हाथ में है उन्‍हें भी सद्बुद्धि दे. जंग साहब के बाद भी जंग जारी रहेगी.

बीजेपी: नजीब जंग के इस्तीफे से कोई हैरानी नहीं, यह उनका निजी फैसला है.

कांग्रेस: पिछले डेढ़ साल से नजीब जंग और दिल्ली सरकार के बीच खींचतान चल रही थी. राज्यपाल को सरकार से कोई बड़ी उम्मीद थी. उसे पूरा होते नहीं देख इस्तीफे का कदम उठाया.

कुमार विश्वास-  नजीब जंग से कोई निजी जंग नहीं.

जनता दल (यूनाइटेड)- नजीब जंग महज मोहरा, मोहरे के काम न रहने पर उन्हें बाहर का रास्ता दिखाया. कोई हैरानी नहीं.

जनता दल (यूनाइटेड)- नजीब जंग महज मोहरा, मोहरे के काम न रहने पर उन्हें बाहर का रास्ता दिखाया. कोई हैरानी नहीं.

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

खबरें से और भी ...

लाइक करें फ़ेसबुक पेज

पॉपुलर न्यूज़

वायरल न्यूज़

स्पॉन्सर्स साइट

ऊपर जाएँ

Pin It on Pinterest

Shares

शेयर करें

अपने मित्रों के साथ इस पोस्ट को शेयर करें!