Connect with us

अर्ली बुलेटिन

15 साल बाद भारत ने जीता ‘जूनियर हॉकी World Cup’

स्पोर्ट्स

15 साल बाद भारत ने जीता ‘जूनियर हॉकी World Cup’

भारतीय हॉकी टीम ने पिछले 15 सालों का रिकॉर्ड तोड़ जूनियर हॉकी विश्व कप का खिताब अपने नाम कर लिया है। भारत ने बेल्जियम को 2-1 से हराकर 15 साल बाद जूनियर विश्व कप जीत लिया और अपनी सरजमीं पर खिताब जीतने वाली यह पहली टीम बन गई।

इस मौके पर खिलाड़ियों ने इसका श्रेय अपनी टीम की मेहनत को दिया है। खिलाड़ियों का कहना है कि अभी तो यह सिर्फ शुरुआत है, आगे वह और भी ईनाम देश को जिताएंगे।

जीत के बाद कोच हरेंद्र सिंह, मैनेजर रोलेंट ओल्टमेंस ने प्रेस कांफ्रेंस कर कहा ‘इस जीत के पीछे सिर्फ खिलाड़ियों की मेहनत। ऐसे में आप इन 18 खिलाड़ियों को धन्यवाद करें और इनका आगे के लिए भी हौंसला बढ़ाएं। क्योंकि आज के हीरो यही हैं।’

इस मौके पर ओल्टमेंस ने कहा कि आज भारत की जीत के पीछे खिलाडियों की 2 साल की मेहनत है। उन्होंने आगे कहा कि खेल का पहला भाग बहुत ज्यादा शानदार था। हालांकि दूसरे भाग में थोड़ी बहुत गलतियां हुईं। लेकिन फिर भी पूरा खेल काफी उम्दा और रोमांचक था। उन्होंने कहा इसका श्रेय खिलाड़ियों के साथ ही कोच को भी जाता है।

मैनेजर और सीनियर टीम के कोच ओल्टमेंस ने जब कहा ‘चक दे इंडिया’ तो पूरी टीम और मीडिया ने उनके साथ सुर में सुर मिलाकर यह नारे लगाया। कप्तान हरजीत सिंह ने कहा कि खिलाड़ियों ने अनुशासन में रहकर पूरे टूर्नामेंट में सरल हॉकी खेली।

उन्होंने कहा, ‘‘टीम में जबर्दस्त ऊर्जा थी और खिलाड़ियों ने अनुशासित प्रदर्शन किया। सभी ने अपनी भूमिका बखूबी निभाई। वहीं, बेल्जियम के कोच जेरोन बार्ट ने खिताब नहीं जीत पाने पर मलाल जताया लेकिन कहा कि वह अपने खिलाड़ियों के प्रदर्शन से खुश हैं।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

स्पोर्ट्स से और भी ...

लाइक करें फ़ेसबुक पेज

पॉपुलर न्यूज़

वायरल न्यूज़

स्पॉन्सर्स साइट

ऊपर जाएँ

Pin It on Pinterest

Shares

शेयर करें

अपने मित्रों के साथ इस पोस्ट को शेयर करें!